आरलॉन किन अणुओं के बहुलकीकरण से बनता है?

आरलॉन किन अणुओं के बहुलकीकरण से बनता है?

आरलॉन, एक्रिलो नाइट्राइल (विनाइल सायनाइड) CH2 = CH-CN के बहुलकीकरण से बनता है।

और पढ़ें :   एक ग्वाला ताजे दूध में थोड़ा बेकिंग सोडा मिलाकरे (a) ताजा दूध के pH मान को 6 ( अम्लीय) से बदलकर थोड़ा क्षारीय बना देता है, क्यों? (b) इस दूध को दही बनने में अधिक समय क्यों लगता है?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *