विटामिनों के रासायनिक नाम व स्त्रोत व उनकी कमी से होने वाले रोग

विटामिन का नामरासायनिक नामस्त्रोतविटामिन की कमी से उत्तपन्न होने वाले रोग व लक्षण
विटामिन ‘ए’रेटिनॉलअंडा, पनीर, हरी सब्जी, दूध, मछली का तेलरतौंधी, त्वचा का शुष्क पड़ जाना
विटामिन ‘बी’1थाइमीनअनाज के छिलके, दाल, तिल, सब्जियां  बेरी-बेरी, भूख न लगना
विटामिन ‘बी’ 2राइबोफ्लेविनदूध, हरी सब्जियां, खमीर, मांसजीभ में सूजन,मुख की त्वचा और होठों का फटना तथा आंखों का लाल हो जाना
विटामिन ‘बी’3पेंटोंथेनीक अम्लमांस, हरी सब्जी, दूध, अंडे,गन्ना, टमाटरत्वचा का सूख जाना, डायरिया, मानसिक असंतुलन
विटामिन ‘बी’ 5नियासिनआलू टमाटर मूंगफली, पत्ति वाली सब्जियांबाल सफेद होना, मंदबुद्धि
विटामिन ‘बी’6पायरीडॉक्सिनदूध, कलेजी, हरी सब्जियांएनीमिया, वृद्धि कम होना, चिड़चिड़ापन,  त्वचा संबंधी समस्याएं, शिशु के शरीर में ऐंठन
विटामिन ‘बी’ 7निकोटिनिक अम्लदूध, मांस, यकृत, अंडापैलाग्रा
विटामिन ‘बी’12कोवालमिनयकृत, मांस, दूधसांघातिक अरक्तता
विटामिन ‘सी’एस्कार्बिक अम्लटमाटर, संतरा, खट्टे पदार्थ, मिर्च,  अंकुरित अनाज, आलूस्कर्वी रोग, हड्डियों का कम विकास, घावों का देर से भरना, मसूड़ों से खून बहना
विटामिन ‘डी’कैल्सिफेरॉलमक्खन, मांस-मछली, यकृत, अंडे की जर्दी, सूर्य का प्रकाशरिकेट्स, अस्थियों की कोमलता तथा टेढ़ापन, दांतों का विकास न होना, दंतक्षय
विटामिन ‘ई’टेकोफेरॉलदूध मक्खन हरी सब्जियां तेल कलेजी आदिबांझपन, एनीमिया
विटामिन ‘के’नेफ़्थोक्विनोनटमाटर हरी सब्जियांरक्त स्कंदन
फोलिक अम्लतेरोईल ग्लूटेमिकदाल, अंडा, यकृत, सेम, सब्जियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *