CaSO4.½H2O बनाने की विधि तथा उपयोग

CaSO4.½H2O-इसे प्लास्टर ऑफ पेरिस (P.O.P) कहते हैं। इसका रासायनिक नाम कैल्सियम सल्फेट अर्धहाइड्रेट (हेमी हाइड्रेट) है। फ्रांस की राजधानी पेरिस में सर्वप्रथम जिप्सम को गर्म करके इसे बनाया गया था अतः इसका नाम प्लास्टर ऑफ पेरिस रख दिया गया।

बनाने की विधि
जिप्सम (CaSO4.2H2O) को 393K ताप पर गर्म करने पर प्लास्टर ऑफ पेरिस प्राप्त होता है।

और पढ़ें :   रक्त में हीमोग्लोबिन मापन

P.O.P. को और अधिक गर्म करने पर सम्पूर्ण क्रिस्टलन जल बाहर निकल जाता है और मृत तापित प्लास्टर [CaSO4] प्राप्त होता है।

उपयोग- प्लास्टर ऑफ पेरिस के उपयोग निम्न हैं

टूटी हुई हड्डियों को सही स्थान पर स्थिर करने तथा जोड़ने के लिए प्लास्टर चढ़ाने में,
अग्निसह पदार्थ के रूप में,
भवन निर्माण में,
दंत चिकित्सा में,
मूर्तियाँ तथा सजावटी सामान बनाने में।

और पढ़ें :   इलेक्ट्रोएनसिफेलोग्राफी तकनीक EEG

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *